Ticker

6/recent/ticker-posts

National Voters Day (राष्ट्रीय मतदाता दिवस) क्यों मनाया जाता है?

राष्ट्रीय मतदाता दिवस राष्ट्र के निर्माण में सम्मिलित मतदान कर्मियों के उपलक्ष्य में हर साल 25 जनवरी को मनाया जाता हैं। 





मतदान कर्मी हमारे देश के निर्माण में एक नीव की तरह हैं जो तय करते हैं की हमारे देश का भविष्य किसके हाथ में सही रहेगा।


हमारे देश की जो चुनाव प्रक्रिया है "लोकतांत्रिक रूप" से मतों का अधिकार यह शब्द ही बयां करता है की हमारे देश का जीर्णोद्धार मतदाताओं पर ही निर्भर है। 


राष्ट्रीय मतदाता दिवस कब से मनाया जाता है 


2011 में तत्कालिन राष्ट्रपति श्रीमती प्रतिभा सिंह पाटिल ने  लोगों को लोकतांत्रिक पर्व में अधिक से अधिक भाग लेने की योजना के एवज में "राष्ट्रीय मतदाता दिवस" मनाने की घोषणा किया जो अब हर साल मनाया जाता हैं।


मतदाता दिवस मनाने का उद्देश्य "कोई भी मतदाता पीछे न छुटे" था।


 क्यूंकि इसी दिन 25 जनवरी 1950 को भारत में पहली बार "भारत निर्वाचन आयोग" का गठन हुआ था । निर्वाचन आयोग ही भारत में चुनावी प्रक्रिया का सारा ढ़ाचाँ तैयार करता हैं ।

 

यह भी पढ़ें:👇

धर्म की राजनीति पर विचार 


25 जनवरी भारत के हर नागरिक को उसके देश के प्रति कर्तव्य को याद दिलाता है। और यह भी बताता है कि हर व्यक्ति को देश के विकास के लिए मतदान करना जरूरी हैं।


हमारे देश का भविष्य हमारे युवा मतदाता पर ज्यादा निर्भर करता है क्यूंकि यहाँ युवा मतदाता की संख्या लगभग 60% हैं।और यहाँ की राजनेता भी इन्हीं युवा को अपनी ओर ज्यादा आकर्षित करते हैं। 


ऐसे में हम युवा को जाति, धर्म, नस्ल की भावना से ऊपर उठकर राष्ट्रहित के मजबूती के लिए मतदान करने का लक्ष्य रखना चाहिए।


25 जनवरी के दिन सरकार एवं अन्य संस्था द्वारा जगह जगह मतदाता सूची में नामांकन के लिए मंच बनाया जाता हैं और नये नये मतदाताओं को मतगणना सूची में नाम जोड़ा जाता हैं।


मतदान के एवज में तरह-तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता हैं ताकि लोगों में मतदान के लिए जागरुकता बढ़ें।


ताजा रिपोर्ट में भारत में कुल मतदाताओं की संख्या 90 करोड़ 94 लाख हैं।


इस साल यानी 2021 में निर्वाचन आयोग द्वारा EPIC यानी Electors photo identity card programme शुरु किया गया हैं।


यह भी पढ़ें:👇

बिहार की चुनाव राजनीति के बारें में 


जो की नए वोटरों के लिए हैं। यह वोटर आई कार्ड पूरी तरह डिजिटल होगा यानी जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड को डाउनलोड किया जा सकता हैं वैसे ही अब वोटर आई कार्ड को भी डाउनलोड किया जा सकता है ।


यदि आप हिन्दी गाने सुनने के शौकीन हैं और आपको किसी भी हिन्दी गाने का लिरिक्स चाहिये तो इस लिंक को दबाएं 

www.lyricshub.net.in





Post a comment

0 Comments