कोरोना युग का अनलॉक-1 व्यवस्था

कोरोना युग में सीजन अनलॉक-1 के दौरान कुछ जरुरी बातों का विवरण जिसे केंद्र सरकार के द्वारा लागू किया गया है 


आज जहाँ पुरी दुनिया कोरोना वायरस की बिमारी से परेशान और बेहाल है वही हर देश की कानून व्यवस्था तरह-तरह के गाइडलाईन जारी कर रहे है ताकि हमलोग सुरक्षित रूप से रहे अपने परिवार वालो के साथ। 

भारत जहाँ दिन ब दिन कोरोना वायरस का मामला बढ़ते जा रहा है और लॉकडाऊन का एक लंबा सफ़र तय करने के बाद नागरिकों में आर्थिक समस्या का बोझ बढ़ते जा रहा है जो एक मानवीय रूप से चिंता का विषय है।

इन हालात को देखते हुए भारत सरकार ने लॉक- डाऊन को तोड़कर अनलॉक-1 सीजन की शुरूआत की है जिसमें बहुत सारी बिंदुओ के ध्यान में रखते हुए बहुत सारी छुट का भी प्रावधान किया गया है। जिसमें धार्मिक स्थलों को भी खोलने का जिक्र है जो 08.06.2020 से पूरे देश में चालू होंगे।

इस एवज में भारत सरकार ने भी एक गाइडलाइन जारी किया है जिसे हमलोग को सख्ती से पालन करना है और दुसरे लोग को भी बताना है जो इसके बारें में नही जानते है।

तो आइये देखते है वो कौन कौन से महत्वपूर्ण बिंदु है 

1. कंटेंनमेंट जोन में पड़ने वाले सभी धार्मिक स्थल बन्द रखे जायेंगे।

2. धार्मिक स्थल के प्रवेश द्वार पर सेनेटाईजर एवं थर्मल स्क्रीनिंग की व्यव्स्था सुनिश्चित की जाये।

3. केवल स्वस्थ व्यक्ति ही धार्मिक स्थल में प्रवेश करें।

4. मास्क लगाये/ चेहरा ढ़के हुए लोगों को ही प्रवेश दिया जाये।

5. हाथों को नियमित रूप से साबून से धोया जाये अथवा सेनेटाईजर का उपयोग किया जाये।

6. जुता चप्पल यथा संभव अपने वाहन में ही रखें या प्रवेश द्वार के बाहर ही रखें जाये।

7. परिसर के अंदर एवं पार्किंग एरिया में शोशल डिस्टेंन्सिंग का पालन करें।

8. ज्यादा भीड़-भाड़ पर रोक लगाई जाये।

9. यहाँ-वहाँ थूकने पर प्रतिबंध हो।

10. खाँसते या छिंकते समय नाक एवं मुँह को निश्चित रूप से ढ़का जाये।

11. धार्मिक स्थल में रखी धार्मिक पुस्तकों को नही छुआ जाये।

12. हाथ मिलाने या गले मिलने से परहेज किया जाये।

13. किसी भी तरह के खाने पीने के समान का वितरण नही किया जाये।

14. लोग अपने घर से ही हाथ पैर धोकर और वजू करके आयें।

15. मस्जिद में कालीन/ जायनमाज नही बिछाया जाये। नमाजी चाहे तो अपने घर से जायनमाज ले कर आ सकते है। और नमाज के बाद ले जा सकते है।

16. हर नमाज के बाद नियमित रूप से फर्श/कालीन की सफ़ाई सुनिश्चित किया जाये।

17. एयर कंडीशन का तापमान 24-30 डिग्री सेंटीग्रेड के बीच रखा जाये।

18. 65 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्ग एवं 10 वर्ष से कम उम्र वाले बच्चों को घर के अंदर ही रहना चाहिये।

मेरे देशवासियों आपलोगों से नम्र निवेदन है की कृप्या आपलोग इन सारी बातों को ध्यान में रखकर अपने और अपने परिवार वालों की सुरक्षा करें।  

               🇮🇳🇮🇳   जय हिन्द जय भारत 🇮🇳🇮🇳


                          (Written by:-Meraj Hashmi)


Post a comment

0 Comments